भारत में कृत्रिम गर्भाधान और बाँझपन

नकली / कृत्रिम गर्भाधान एक तकनीक है जिसमे चिकत्सक द्वारा सीधे तौर पर महिला के गर्भशय में शक्राणु प्रवेश करवाए जाते हैं, ता की निशेषन के बाद भ्रूण बन सके |

नकली/कृत्रिम गर्भाधान पर्किर्या से बाँझपन उपचार ?

यह पर्किर्या तब इस्तेमाल की जाती है जब पुरुष प्रजनन के काबिल नहीं है | शक्राणु की गति पर्याप्त न होने पर वह फॉलोपियन नलिका के रस्ते से अंडाशय तक नहीं पहुंच पाते | इसी कारन उन्हें सीधे तौर पर चिकत्सक अण्डों के पास रख देता है और वह निशेषन क्र सकते हैं |

महिलों में भी उपयोग किया जा सकता है , जब एंडोमेट्रियोसिस की बीमारी से पीड़ित हो | इस बीमारी वाली महिला के अंदर पहुंच कर शक्राणु पूरी गति नहीं कर पाते |

कई मरीजों के गर्भशय में बलगम भरी होती है | शक्राणु अंदर एते हैं लेकिन बलगम होने से गर्भशय में से फॉलोपियन नलिका में नहीं जा पाते | जिस कारन प्रजनन किर्या रुक जाती है |

यह कैसे किया जाता है ?

-वीर्य में से शक्राणु को छांट कर उसका उपचार किया जाता है , जिसमे अन्य रस्याण और कमजोर शक्राणु हटा दिए जाते है और सबसे अच्छी गुणवत्ता वाले शक्राणु को प्रजनन के लिए तैयार किया जाता है |
– सभी अशुदयों को दूर करके चिकत्सक महिला के पेट में लगने वाले समय को कम करते हैं और गर्भधारण के नतीजों को सुधरते हैं |
– इसके बाद शक्राणु को च्चिक्त्सक अपने खास यंत्र की मदद से गर्भशय में रखता है |
– यह पूरी तरह दर्द रहित पर्किर्या है |
– चिकत्सक को शक्राणु स्थानांतरित करने में एक घंटा तक लग सकता है |
– कुछ महिलाओं को पर्किर्या के बाद सूजन और खून निकलने की समस्या होती है |
– भ्रूण बनने की पर्किर्या को सही रखने के लिए चिकत्सक आपको कुछ दवायां देगा जो अण्डों को जल्दी फलित होने में मदद करेगीं |

कृत्रिम गर्भधारण की अन्य जानकारी -

अगर आप बार बार यह पर्किर्या अपना रहे है और आपको सफलता नहीं मिल रही तो आपको इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन पर्किर्या का उपयोग करना पड़ेगा | यह सलाह आपको आपका चिकत्सक तीन या चार बार के बाद दे देगा |

कृत्रिम गर्भधारण की भरता में लागत-

– आपके अण्डों को फलित करने के लिए उपयोग की ए हार्मोनिक दवाएं ,

– शक्राणु दो स्वच्छ करने की लागत ,

– यदि आप शक्राणु किसी और से ले रहे है तो उसकी लागत पर कुल लागत तय होगी |

सफल आईवीएफ उपचार

शिखर की आईवीएफतकनीकें

शिक्षित एवं पेशेवरकर्मचारी

Call Now For Consultation +91-92449-00001

Call Now For Consultationivf@evahospital.in

(C) Copyright 2017 - EVA Hospitals All rights reserved.